Acharya Chanakya Quotes In Hindi:- आचार्य चाणक्य का जन्म ईसा पूर्व से 350 साल पहले हुआ था। इनको ‘कौटिल्य‘ के नाम से भी जाना जाता है। अर्थशास्त्र और नीतिशास्त्र (चाणक्य नीति) के रचयिता चाणक्य ही है। आचार्य.चाणक्य चन्द्रगुप्त मौर्य के महामंत्री थे। इन्होने नंदवंश का नाश करके चन्द्रगुप्त मौर्य को राजा बनाया।  मौर्य साम्राज्य की स्थापना में इनका परम योगदान था। आचार्य चाणक्य चंदगुप्त मौर्य के राजमहल के सुख से दूर एक छोटी सी कुटिया में रहते थे। 



Acharya Chanakya Quotes In Hindi



Acharya Chanakya Quotes In Hindi images
Acharya Chanakya Quotes In Hindi images 


संतुलित दिमाग जैसी कोई भी सादगी नहीं है, संतोष जैसा कोई दुःख नहीं है, लालच से बढ़कर कोई बीमारी नहीं है और दया भाव जैसा कोई पुण्य नहीं है।

कोई काम शुरू करने से पहले अपने आप से तीन Questions कीजिये, पहला – मैं यह काम क्यों कर रहा हूँ।  दूसरा – इसका क्या परिणाम होगा और तीसरा क्या में सफल हो जाऊंगा। जब गहराई से सोचने पर इन तीनो प्रश्नो का संतोषजनक उत्तर मिल जाये, तभी आगे बढ़ें।

 जो व्यक्ति कर्तव्यनिष्ठ नहीं होता यानि अपनी जिम्मेदारियों से भागता है, वह कभी भी अपने परिवार वालों का पालन पोषण नहीं कर सकता। 

व्यक्ति अकेले पैदा होता है और अकेले मर जाता है; और वो अपने अच्छे और बुरे कर्मों का फल खुद ही भुगतता है; और वह अकेले ही नर्क या स्वर्ग जाता है। 

पुरुष को कोई भी कार्य बिना सोचे समझे नहीं करना चाहिए ये उसे बर्बाद कर सकता है। 

यदि आप सिर्फ मूर्तियों में ही भगवान को ढूंढते रहेंगे तो आपको नहीं मिलेंगें क्योंकि आपकी भावनायें ही आपका ईश्वर हैं और आपकी आत्मा ही आपका मंदिर।

जो व्यक्ति शक्ति न होने पर भी मन से कभी हार नहीं मानता उसे इस संसार की कोई भी ताकत हरा नहीं कर सकती।

जब कार्यों की अधिकता हो, तब उस कार्य को पहले करें, जिससे अधिक फल प्राप्त होता है।

मेहनत करें और करते रहें पर अपने भाग्य पर भी भरोसा रखें, यानि अपने भाग्य को कोसें नहीं बल्कि विश्वास रखें।

मृतिका पिंड (मिट्टी का ढेला) भी फूलों की सुगंध बढ़ा देता है अर्थात सत्संग का प्रभाव मनुष्य पर अवशय पड़ता है जैसे जिस मिटटी में फूल खिलते है उस मिट्टी से भी फूलों की सुगंध आने लगती है।

सबसे बड़ा गुरु मंत्र “अपने राज़ (Secrets) किसी को भी मत बताओ।  लोग आपका फायदा उठायेंगे और आपको बर्बाद भी कर सकते हैं।”

जिस तरह एक सूखे पेड़ को अगर आग लगा दी जाये तो वह पूरे जंगल को  जला देता है। उसी तरह एक पापी पुत्र पुरे परिवार बर्बाद कर देता है।

बुद्धिमान व्यक्ति हमेशा अपना धन उन्हीं को देते हैं जो इसके योग्य होते हैं। जिस प्रकार बादल समुद्र का खारा पानी लेते हैं और बदले में मीठा पानी देते हैं।

जो यह नहीं पहचानता कि वो क्या कर रहा है ,सही कर रहा है या गलत कर रहा है , सही मायने में वही अंधा है।  

यह एक कड़वा सच है कि हर दोस्ती के पीछे कुछ स्वार्थ होता है। बिना स्वार्थ के दोस्ती नहीं होती।

एक समझदार व्यक्ति वही है जो भूतकाल (Past) को यादकर दुखी नहीं होता, भविष्य (Future) की चिंता नहीं करता।  ऐसा व्यक्ति केवल वर्तमान (Present ) में जीता है, यानि सिर्फ आज के बारे में सोचता है।

कोई भी व्यक्ति ऊँचे स्थान पर बैठकर ऊँचा नहीं कहलाता बल्कि व्यक्ति सदैव अपने गुणों से ऊँचा होता है।

जिस व्यक्ति का ज्ञान केवल किताबों तक ही सीमित रहता है और जिसका धन किसी दूसरे के कब्जे में रहता है, वो व्यक्ति जरूरत पड़ने पर न तो अपना ज्ञान प्रयोग कर सकता है और न ही अपना धन। 

साहसी लोगों को अपना कर्तव्य प्रिय होता है। दोपहर बाद के कार्य को सुबह ही कर लें।

Read More -

1. Best Life Motivational Quotes In Hindi Images For Whatsapp 2020




एक सांप को आप कितना भी दूध पिलायें, मौका मिलने पर वो आपको डस ही लेगा, उसी प्रकार आप एक दुष्ट व्यक्ति का कितना भी भला कर लें वह सदा ही आपका बुरा चाहेगा।

जो व्यक्ति बिना सोचे समझे कार्य करता है सफलता और वैभव उसका साथ छोड़ देती है।

कभी भी ऐसे व्यक्ति से मित्रता मत कीजिये जो प्रसिद्धि में आपसे काम या ज्यादा हो, ऐसे दोस्ती आपको कभी भी ख़ुशी नहीं देगी। 

 जो व्यक्ति आपके मन में है वो आपसे दूर रहकर भी दूर नही है और जो व्यक्ति आपके मन मे नही है वह आपके नजदीक रहकर भी बहुत दूर है।

मूर्ख व्यक्ति उपकार करने वाले का भी अपकार करता है। इसके विपरीत जो इसके विरुद्ध आचरण करता है, वह विद्वान कहलाता है।

कुशल लोगों को रोजगार का भय नहीं होता। जितेन्द्रिय व्यक्ति को विषय-वासनाओं का भय नहीं सताता।

जिस मनुष्य की वाणी , मन, इन्द्रियों में पवित्रता और जो ह्रदय से दयालू होता हैं. वही व्यक्ति परमात्मा तक पहुँचता है।

जब खीर गर्म हो तो पतीले में खीर किनारे से थोड़ी थोड़ी खानी चाहिए। 

दुर्जन व्यक्ति के साथ अपने भाग्य को नहीं जोड़ना चाहिए। सदाचार से मनुष्य का यश और आयु दोनों बढ़ती है।

रत्न कभी खंडित नहीं होता अर्थात विद्वान व्यक्ति में कोई साधारण दोष होने पर उस पर ज्यादा ध्यान नहीं देना चाहिए।

स्त्री रत्न से बढ़कर कोई दूसरा रत्न नहीं है। रत्नों की प्राप्ति बहुत कठिन है। अर्थात श्रेष्ठ नर और नारियों की प्राप्ति अत्यंत दुर्लभ है।

बिना प्रयत्न के जहां जल उपलब्ध हो, वही कृषि करनी चाहिए। जैसा बीज होता है, वैसा ही फल होता है। जैसी शिक्षा, वैसी बुद्धि। जैसा कुल, वैसा आचरण। 

राजा के दर्शन न देने से प्रजा नष्ट हो जाती है। राजा के दर्शन देने से प्रजा सुखी होती है।

मुर्ख व्यक्ति हर किसी काम में सिर्फ कमी निकलता है।  ऐसे व्यक्ति की संगत में आप कभी भी सफल नहीं हो सकते, वल्कि ऐसे व्यक्ति हमेशा आपको हतोत्साहित (Discourage) करते रहेंगे।

धर्म से भी बड़ा व्यवहार है। आत्मा व्यवहार की साक्षी है,आत्मा तो सभी की साक्षी है। कूट साक्षी नहीं होना चाहिए।

जो व्यक्ति समय की वैल्यू नहीं समझते, समय भी उनकी वैल्यू नहीं समझता और अंत में अफ़सोस करने के आलावा कुछ भी नहीं बचता।

इस बात को कभी जाहिर मत होने दीजिये की आपने क्या करने के लिए सोचा है।  बुद्धिमान व्यक्ति की तरह  इसे रहस्य बनाये रखिये और इस काम को करने के लिए दृढ़ रहिये।

मधुर व प्रिय वचन होने पर भी अहितकर वचन नहीं बोलने चाहिए| बहुमत का विरोध करने वाले एक व्यक्ति का अनुगमन नहीं करना चाहिए।

यही आप किसी कार्य में सफल होना चाहते हैं तो कभी भी कोशिश करना न छोड़ें, क्योंकि लगातार कोशिश करने से ही आपको सफतला मिलती है।

Read More -

1. 30+ Best Hindi Motivational Suvichar With Images 2020

2. Best Aaj Ka Suvichar In Hindi Images 2020