Ujjwal Patni Quotes In Hindi :- भारत के मशहूर लेखक, मोटिवेशनल स्पीकर, डॉ उज्जवल पाटनी दुनिया भर में लगभग 20 देशों  के 100 शहरों में लगभग 1000 से भी ज्यादा सेमिनार किये है। डॉ उज्जवल पाटनी भारत के मात्र एक ऐसे सफल वक्ता हैं, जिनके नाम पर कई गिनीज वर्ल्ड ऑफ रिकॉडर्स् दर्ज हैं। लेखक उज्जवल पाटनी बिजनेस ऑर्गेनाइजेशन और व्यापारियों के लिए ‘VIP’ और ‘Excellence Gurukul’ नाम से प्रोग्राम भी चलाते हैं। आइये आज डॉ उज्जवल पाटनी के अनमोल विचार ( Ujjwal Patni Quotes In Hindi ) के बारे में जानते है :- 


Ujjwal Patni Quotes In Hindi


Ujjwal Patni Quotes In Hindi images
Ujjwal Patni Quotes In Hindi images 

दूसरों के गलत एवं सही निर्णय से सीखिए। दुनिया में किसी की भी उम्र इतनी लंबी नहीं होती, कि वह हर गलती स्वयं करके स्वयं सीखें।

संसार में दो तरह के लोग हैं, वो जो जीवन के हर पल को जिंदा दिली से जी रहे हैं। दूसरे वो जो इसलिए जी रहे हैं क्योंकि वह मरे नहीं है।

यदि दूसरों को यह लगे कि आप के समय की कोई कीमत नहीं है, तो अगले ही क्षण से वो आप का दुरुपयोग शुरू कर देंगे।

जो मुद्दे आपके नियंत्रण से बाहर है, उनकी चिंता से मुक्त हो जाइए। और जो मुद्दे आपके नियंत्रण में है, उनकी चिंता करने की बजाय समाधान पर कार्य कीजिए।

अपने से बड़े और सफल लोगों से तो हर कोई सम्मान और विनम्रता से पेश आता है। असली श्रेष्ठता तो तब है जब आप सामान्य लोगों से वैसा ही व्यवहार करते हैं।

हर वक्त स्वयं को एहसास दिलाइए कि आप एक महत्वपूर्ण इंसान है और ईश्वर ने आपको किसी खास मकसद से इस दुनिया में भेजा है।

डरिए, घबराइए, हताश होइए ये सब स्वाभाविक है। मगर फिर भी आगे बढ़िए और वो कार्य कीजिए, जिनको करना जरूरी है।

यदि जीवन में लोकप्रिय होना है तो सबसे ज्यादा “आप” शब्द का, उसके बाद “हम” शब्द का और सबसे कम “मैं” शब्द का उपयोग करना चाहिए।

यदि आप मेरे पास आकर किसी और की बुराई करते हैं, तो मुझे कोई संदेह नहीं कि आप दूसरों के पास जाकर मेरी बुराई करते होंगे।

हम हमेशा इस बारे में सोचते हैं कि हमारे पास क्या नहीं है। हम इस बारे में बहुत कम सोचते हैं कि हमारे पास कितना है।

यदि बड़ा बनना हो तो स्वयं से कमतर लोगों के साथ संगति करके, boss बनने की बजाय स्वयं से बेहतर लोगों की संगति करना, भले ही कुछ अवसरों पर आपको कम महत्व मिले।

हर व्यक्ति किसी ना किसी क्षेत्र में जीनियस होता है; किसी को जल्दी पता लगता है तो किसी को देर से।

अपने आप को पीड़ित की तरह प्रस्तुत मत कीजिए। मेरा भाग्य खराब है, मेरे साथ ही ऐसा क्यों होता है ? मुझे हमेशा धोखा मिलता है। इन लाइनों का उपयोग इंसान अपनी कमियों को छुपाने के लिए करता है।

बड़े सपनों को कभी छोटी सोच वालो से चर्चा मत करो। जिससे सलाह मांग रहे हो, उसकी भी इतनी हैसियत होनी चाहिए कि वो बड़े सपनों को समझ सके।

किसी से भी कुछ मांगने से मत हिचकिचाओ, किसी से प्रेरणा मांगो, किसी से अवसर मांगो। याद रखो ,दुनिया में किसी की हैसियत बोलने से ज्यादा की नहीं होती है।

जब कोई व्यक्ति कमजोरी, बहानेबाजी, टाइमपास करके यह सोचता है कि वह किसी को बेवकूफ बनाने में सफल हो गया, वह किसी और को नहीं, बल्कि अपनी जिंदगी को बेवकूफ बना रहा है।

कुछ क्षणो के temporary तनाव से परेशान होकर कोई ऐसा कदम मत उठाइए। जिससे जिंदगी में परमानेंट तनाव हो जाए।

लोग आपको आदर नहीं देंगे, जब तक आप स्वयं को आदर नहीं दोगे। लोग आप की कीमत नहीं समझेंगे, जब तक आप अपनी कीमत नहीं समझेंगे। लोग आपकी प्रतिभा नहीं पहचानेंगे, जब तक आप अपनी प्रतिभा नहीं पहचानोगे।

जीवन में सबसे बड़ी ख़ुशी उस काम को करने में है, जिसे लोग कहते हैं कि तुम नहीं कर सकते हो।

कुछ ऐसा काम करें कि आपके पेरेंट्स अपनी प्रार्थना में कहें…हर जन्म में आपके जैसी संतान मिले।

बिना प्रयास के सिर्फ आप नीचे गिर सकते हैं, ऊपर नहीं उठ सकते। यही गुरुत्वाकर्षण का भी नियम है और जीवन का भी।

अपनी समस्याओं को हर किसी के साथ मत बांटिए। कोई मीठा बोल रहा है या सहानभूति दिखा रहा है, तो इसका अर्थ यह नहीं है कि वह आपका शुभचिंतक है।

मृत्यु के बाद अपनी श्रद्धांजलि में क्या सुनना चाहेंगे? जो सुनना चाहेंगे, वैसी ही जिंदगी आज से जीना शुरु कीजिए।